Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

PV Sindhu Biography in Hindi | पी. वी. सिन्धु बैडमिंटन खिलाडी

Badminton Player PV Sindhu Biography in Hindi / बैडमिंटन खिलाडी पी. वी. सिन्धु का जीवन परिचय:
August महीने के एक morning को पी. वी. सिंधु (P.V. Sindhu) ने रियो ओलंपिक्स Rio Olympics 2016 के बैडमिंटन खेल के प्रतियोगिता में वीमेन सिंगल्स के वर्ग में सिल्वर मैडल जीत कर इतिहास रचा . पी. वी. सिंधु इस बार के ओलंपिक्स में पहली भारतीय स्त्री बनी जिसने ओलंपिक्स में सिल्वर मैडल जीता हो. PV Sindhu Biography in Hindi.

Badminton Player PV Sindhu Biography in Hindi

पी. वी सिंधु के जीवन की एक झलक / A Glance at PV Sindhu Life::
P.V. Sindhu – पी. वी. सिंधु का पूरा नाम पुसरला वेंकट सिंधु है. उनका जनम 5 जुलाई 1995 में हैदराबाद, भारत में हुआ था. वे अभी मात्र सिर्फ 21 साल की है. वो 8 साल की उम्र से ही बैडमिंटन खेलना शुरू कर दिया था. उन्होंने सत. अन्न’स कॉलेज फॉर वोमेन से अपनी ग्रेजुएशन पूरी की. उनके पिताजी का नाम पी. वी. रमन और माताजी का नाम पी. विजय हैं और वे दोनों ही वॉलीबॉल खेल के खिलाडी थे. उनके पिताजी श्री पी. वी. रमन को युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय, भारत सरकार और अर्जुन पुरुस्कार दिया जा चूका है जो की खेल के क्षेत्र में सबसे प्रतीक्षित पुरुस्कार हैं. हाला की उनके माता-पिता वॉलीबॉल प्लेयर्स थे. परन्तु वे बैडमिंटन से आकर्षित थी. वे पी. गोपीचंद से प्रभावित हो कर, जो की वर्त्तमान में उनके कोच हैं, बचपन में बैडमिंटन खेलना आरम्भ किया था और वे उनकी तरह भारत को अंतराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिनिधित्व करना चाहती थी. Also read Sakshi Malik Biography & wiki in Hindi.

करियर की शुरुआत Starting of Career

उन्होंने आरंभ में इंडिया रेलवे इन्सिटीट्यूट ऑफ़ सोशल इंजीनियरिंग एंड टेलेकम्युनिकेशन्स, सिकंदराबाद में मेहबूब अली के निर्देश में बैडमिंटन खेल. बाद में पुल्लेला गोपीचंद के गोपीचंद बैडमिंटन अकादमी में ट्रेनिंग लेना चालू किया. पुल्लेला गोपीचंद दूसरे भर्ती है जिन्होंने आल इंग्लैंड बैडमिंटन चैंपियनशिप्स का किताब जीता है. उन्होंने ने साइना नेहवाल जैसे जाने माने खिलाडियों को ट्रेनिंग दी है. कुछ ही प्रशंसकों को उनके लगन और मेहनत के बारे में पता होगा. वो 19 साल के उम्र में ही अपने कोच पी. गोपीचंद के साथ सुबह 4.15 से अभ्यास चालू कर देती थी. और वे यह पिछले 3 सालो से कर रही है. Also read Akshay Kumar biography in hindi.

उनका प्रसिद्ध होना Recognition of P V Sindhu

पी. वी. सिंधु (P.V. Sindhu) को अंतरराष्ट्रीय स्तर पे मान्यता तब मिली जब वे 2012 सितम्बर के महीने में बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन के वर्ल्ड रैंकिंग्स में टॉप 20 में अपना नाम दर्ज किया जब उनकी उम्र मात्रा सिर्फ 17 साल थी. 2013 में वो पहली भारतीय महिला बनी जिसने बैडमिंटन वर्ल्ड चैंपियनशिप्स के विमेंस सिंगल्स में एक मैडल जीत हो. 2015 मार्च में उनको पद्म श्री से भी भारत सरकार के दुआरा समानित किया गया .

पदक एवं सम्मान Medal & Awards:

एक झलक उनके मैडल की टोकरी के और –
पी. वि. सिंधु(P.V. Sindhu) को राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय स्तर पर कई मेडल्स मिल चुके हैं .

विमेंस सिंगल्स के वर्ग में :-
• ओलंपिक्स 2016 – सिल्वर मैडल
• वर्ल्ड चैंपियनशिप्स 2013 और 2014 – ब्रोंज मैडल
• कामनवेल्थ गेम्स 2014 – ब्रोंज मैडल
• एशियाई गेम्स 2014 – ब्रोंज मैडल
• एशियाई चैंपियनशिप्स 2014 – ब्रोंज मैडल
• साउथ एशियाई गेम्स 2016 – सिल्वर मैडल
• एशियाई जूनियर चैंपियनशिप्स 2011 – ब्रोंज मैडल
• एशियाई जूनियर चैंपियनशिप 2012 गोल्ड मैडल
• कामनवेल्थ युथ गेम्स 2011 गोल्ड मैडल

विमेंस डबल्स के वर्ग में :-
• उबेर कब 2014 और 2016 – ब्रोंज मैडल
• एशियाई गेम्स 2014 – ब्रोंज मैडल
• साउथ एशियाई गेम्स 2016 – गोल्ड मैडल

मिक्स्ड डबल्स के वर्ग में
:-
• एशियाई जूनियर चैंपियनशिप 2011 – ब्रोंज मैडल

उनके पास कुल मिला कर 9 ब्रोंज, 2 सिल्वर और 3 गोल्ड मैडल है. इतनी कम उम्र में इस मुकाम पर होना आश्चर्य की बात है.

Also Read : Sunil Dutt Biography in Hindi

ओलंपिक्स में सिल्वर मैडल जीतने के बाद मिलने वाले इनाम

• तेलेंगाना सरकार की और से 5 करोड़ रुपये और ज़मीन
• आंध्र प्रदेश सरकार की और से 3 करोड़ रूपये ,ग्रुप अ. जॉब और 1000 गज ज़मीन
• दिल्ली सरकार की तरफ से 2 करोड़ रूपये
• भारत पेट्रोलियम में अस्सीस्टन मेनेजर से पदोन्नति डिप्टी स्पोर्ट्स मेनेजर के साथ 75 लाख रूपये
• हरयाणा सरकार की और से 50 लाख सुपये
• मध्य प्रदेश सरकार की और से 50 लाख रूपये
• युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से 50 लाख रूपये
• भारतीय बैडमिंटन एसोसिएशन की ओर से 50 लाख रूपये
• मुककट्टू सेबेस्टियन नामक उद्योगपति की ओर से 50 लाख रूपये
• भारतीय ओलंपिक्स एसोसिएशन की ओर से 30 लाख रूपये
• हैदराबाद डिस्ट्रिक बैडमिंटन एसोसिएशन की ओर से बीएमडब्ल्यू गाड़ी
• आल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन की ओर से 5 लाख रूपये
• सलमान खान की ओर से 1 लाख रूपये. Priyanka Chopra Biography in Hindi

पी. वी सिंधु (P.V. Sindhu) के सोशल मीडिया following की एक झलक


P V Sindhu in Social Media
पी वी सिंधु (P.V. Sindhu) सोशल मीडिया में भी एक्टिव हैं. उनका ट्विटर Twitter & फेसबुक Facebook में अकाउंट है . Twitter पे उनके करीबन 2.24 लाख followers हैं. फेसबुक पे उनके पेज – ‘ पी. वी सिंधु पर 9.5 लाख likes है . इसके अलावा इंस्टाग्राम Instagram पर उनके 2 लाख से ज़्यादा followers हैं जो ओलंपिक्स के बाद उनके भड़ते भरपूर लोकप्रियता को दर्शाता है . उनमे से कुछ जाने माने राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय खिलाडी , पत्रकार और हस्तियां भी है .

इस बार के Olympics में India से 117 candidates ने 67 आयोजन में भाग्य लिया था. हालाकी भारत को इस बार ओलंपिक्स में ज़्यादा कामयाबी हासिल नहीं हुई, पर सिंधु , दीप कर्मकार और साक्षि मलिक जैसे खिलाड़ियों ने भारत का सर international level पर ऊँचा किया . उन्होंने Indian women का मनोबल बढ़ाया और आगे जीतने की इच्छा शक्ति दी .

एक निवेदन-
यदि PV Sindhu Biography in Hindi article में या इस information में कुछ mistake लगें तो हमें comment जरूर लिखे हम update रहेंगे.

– आशा है आपको हमारी Information About PV Sindhu पसंद आई होगी तो आप  Like और Share कर सकते है.

Raj Dixit

दोस्तों मै Hindi-Quotes.in का admin हूँ अगर आपको यह ब्लॉग पसंद आया हो तो फेसबुक पेज LIKE करे और आप comments भी करें. आपका feedback हमारे लिए बहुत आवश्यक है. ThanksRaj Dixit G+: https://goo.gl/bco7ez

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *