Essay on Diwali in Hindi दिवाली पर्व पर निबंध

Essay on Diwali in Hindi in 250 words / दिवाली पर निबंध (दीपावली) – दोस्तों भारत में दिवाली का पर्व आने वाला है . इस साल Diwali date 2017 Thursday 19 October 2017 गुरुवार को है.  हमें Diwali festival का काफी समय पहले से इंतज़ार रहता है.

Essay on Diwali in Hindi

यह उत्सव / festival हम लोग बहुत ही धूम धाम से मानते है. दिवाली के 2 दिन पहले धनतेरस और 2 दिन बाद भाई दूज का त्यौहार होता है, इसलिए यह त्यौहार 5 दिन का लम्बा उत्सव (Diwali long holiday festival) होता है. लोग leaves लेकर अपने मातापिता और अपने पैत्रक निवास जाते है और वह इसको मनाते है. इन्ही 5 दिनों में सबसे ज्यादा लोग shopping यानि खरीददारी करते है, इसलिए business के लिए भी बहुत important है.

 

दिवाली का अर्थ और महत्त्व – Short Essay on Diwali in Hindi 

Diwali Story: आप रामायण की कहानी (Ramayana ki Kahani) जानते ही होंगे, रामायण में भगवान राम (Lord Rama) की पत्नी सीता को लंका का राजा राक्षस रावन उठा ले गया था. और सीता से विवाह करना चाहता था जिसके कारण उससे सीटो को लंका में बंदी बनाकर रखा था. उसके बाद भगवान श्री राम अपने भाई लक्षमण के साथ सीता की ख़ोज में निकले तब उनको रास्ते में वनरो का सहयोग प्राप्त हुवा और उन्होंने वनरो की सेना बनाकर रावन का वध किया. रावन का वध जिस दिन हुवा था उस दिन को भारत में विजयादशमी या Dussehra के नाम से मानते है. रावन को मरने के बाद श्री राम जी को अपनी नगरी अयोध्या आने में २० दिन लगे थे जिस दिन वो अयोध्या आये उस दिन को भारत में दीपावली या Diwali के पर्व के रूप में धूम धाम से मानते है.

दिवाली का त्यौहार भारत के साथ साथ नेपाल, श्री लनक्स, म्यांमार, मॉरिशस, गुयाना, मलेशिया, सिंगापूर, फ़िजी, पाकिस्तान में बहुत ही व्यापक रूप में मनाया जाता है.

Dhanteras 2017 Date / धनतेरस की तारीख mera priya tyohar diwali in hindi

इस साल भारत में धनतेरस Tuesday, 17 October 2017 मंगलवार के दिन मनाई जाएगी.

दिवाली के पहले धनतेरस की पूजा का महत्व – Importance of Dhanteras 2017

धनतेरस  के दिन भगवान धनवंतरी का जन्म हुवा था. समुद्र मंथन के समय भगवान धनवंतरी एक हाथ में अमृत कलश और एक हाथ में आयुर्वेद लेकर अवतरित हुए थे । इसलिए इनको आयुर्वेद / दवाओं  का पिता भी कहता है। इसी दिन धनवंत्री जयंती मनाई जाती है और धनतेरस को धन्त्रोदशी भी कहते है. धन का अर्थ है Money/ wealth / Rupees  है &  त्रौदशी का अर्थ  है 10 + 3 = 13 तेरहवां दिन.

धनतेरस के दिन धन और स्वास्थ्य के भगवान धन्वंतरी की पूजा की जाति है। इसका अर्थ यह हुआ की मनुष्य के लिए धन और स्वास्थ्य सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है. इस दिन लोग सोने और चांदी की चीज़े  खरीदते है और कुबेर देवता की पूजा की जाती है। इस दिन धातु से बनी चीज़े खरीदना शुभ माना जाता है। कहते है इस दिन कुबेर और धन्वन्तरी की पूजा करने से भाग्य में १३ गुना वृद्धि होती है. व्यवसायी लोगो के लिए इस दिन का बड़ा महत्त्व है। ये लोग अपने ग्राहकों के लिए उपहार आदि देते है और   लक्ष्मी पूजा से धन एवं समृधि  का आवाहन करते हैं।

धनतेरस 2017 पूजा विधी , मुहूर्त & सामग्री Pooja Vidhi, Items & Timing:

  • शाम 7.32 बजे से 8.18 बजे – पूजा का समय
  • शाम 5.4 9 बजे – 8.18 बजे तक का समय – प्रदोष

धनतेरस के खरीदारी का महूरत / Muhurat for Shopping in Dhanteras

  • सुबह  7.33 बजे – दवा और भोजन
  • सुबह 9.13 बजे तक – मशीनें, गारमेंट्स, शेयर ट्रेडिंग, हाउस होल्ड गुड्स
  • दोपहर 2.12 बजे तक – वाहन, इलेक्ट्रॉनिक आइटम
  • दोपहर 3.51 बजे तक – व्यापार उपकरण, कंप्यूटर और शेयर
  • शाम 5.31 बजे तक – आभूषण, बर्तन, खिलौने, कपड़े, स्टेशनरी

धनतेरस की पूजा की सामग्री (Items for Pooja):

  1. मिटटी का हाथी
  2. धनवंत्री  भगवान की फोटो
  3. पुष्प / फूल और तुलसी
  4. गंगाजल या पाइन वाला स्वच्छ पानी
  5. चांदी  या तांबे की चम्मच / अनच्मानी
  6. तांबे की प्लेट और लोटा
  7. हल्दी, चावला, चंदन, धूपबट्टी, अगबट्टी आदि
  8. अपन रीति के अनूसर और सामग्री बढ़ा सकते है.

धनतेरस में पूजा विधी (Pooja Vidhi / Dhanteras  Pooja kaise kare):

  1. स्वच्छ पानी से पूजा का स्थान धो ले और गंगाजल का छिडकाव करे.
  2. लकडी / लकड़ी के ऊँचे स्थान पर या सिंघासन पर  साफ़ लाल कपडा या भगवा कपडा बिछा दे.
  3. वहा पर धनवंतरारी भगवान और मिट्टी का हाथी की स्थापना करे.
  4. चांदी  या तांबे की चम्मच या अचमानी से जल  का आन्च्मन करे.
  5. भगवान धनवंतरी की तस्वीर में चंदन, हल्दी, चावल, पुष्प चढ़ाये,
  6. धन्वन्तरी और कुबेर पर ध्यान लगाये और अनकी पूजा करे
  7. मीठा का भोग चढ़ाये  और धुप बत्ती और दीपक जलाये.
  8. सबको प्रसाद दे.

 

Essay on Diwali in Hindi : Wikipedia

हमारे  सारे फ्रेंड्स & इस वेबसाइट के readers  ko Diwali 2017 best wishes. Happy Dhanteras 2017 to All friends & family. Wishing you Healthy, wealthy & pollution free festival of Diwali.

Dear Friends!

Aapko Essay on Diwali in Hindi  aur Dhanteras 2017 yah post kaisi lagi hame comment karke jaroor bataiye. Is jankari me kahi agar sudhar ki avashyakta hai to bi hame jaroor bataiye ham ise update karte rahenge.

loading...

Raj Dixit

दोस्तों मै Hindi-Quotes.in का admin हूँ अगर आपको यह ब्लॉग पसंद आया हो तो फेसबुक पेज LIKE करे और आप comments भी करें. आपका feedback हमारे लिए बहुत आवश्यक है. Thanks

Raj Dixit
G+: https://goo.gl/bco7ez

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *