Story For Kids Hindi – Greed of A Tiger | बाघ का लालच – बच्चो की कहानी

Story For Kids Hindi | Tiger Story Hindi :
Story for kids Hindi | Tiger Story in Hindi
त्रिपुरा के जंगलों में एक जंगली मादा सूअर थी. वह अपने बच्चों के साथ खुशी से रहते थी . एक दिन, जब वह जंगल में अपने बच्चों के लिए भोजन के लिए खोज रही थी. उसने एक झाड़ी के पास एक रोते हुए बाघ शावक (बाघ का छोटा बच्चा) को देखा. शावक की मां का कोई निशान नहीं मिला तो उसने सोचा कि लगता है बाघिन को किसी शिकारी द्वारा मार डाला गया है. मां सुअर को शावक पर दया आ गयी. उसने सोचा की ‘मैं कैसे ऐसी हालत में इस अनाथ शावक छोड़ सकती हु. आखिर मैं एक माँ हूँ मेरे पीछे कोई शावक को खा जाएगा. ‘

loading...

मां सुअर अपने बच्चों के साथ शावक की भी देख भाल शुरू कर दी. और बाघ शावक भी सुअर के परिवार का एक सदस्य बन गया. वह और सूअर के बच्चे एक साथ खेलते, एक साथ घूमने जाते और एक साथ सो जाते थे. दिन बीतते गए.

Yah Hindi Kahani bhi padiye : Hindi me Kahani- Gyan ki 3 baate

एक दिन, मां सुअर की मौत हो गई. अब शावक तब से अब तक एक पूर्ण विकसित बाघ बन चूका था लेकिन सुअर के बच्चे भी बड़े हो गए थे और काफी मोटे थे. एक बाघ की ऐसी प्रकृति है की वह मांस पर रहता है. मांस खाने के लिए एक गहरी इच्छा धीरे-धीरे बाघ में जन्म ले चुकी थी. वह सुअरों का मॉस खाने को बहुत लालायित था. क्योकि वह सुअरों के साथ रहा था तो सीधा हमला करने से वह बदनाम हो सकता था. इसलिए उसने एक योजना बनायी.

एक दिन बाघ ने सूअरों में से एक से कहा- “भाई, कल रात मैंने एक सपना देखा था. मेरे सपनों में, मैंने देखा कि मैं तुम्हें खा रहा था. मुझे इस सपने का अनादर नहीं करना चाहिए क्योकि यह एक पाप है. इसलिए, मैंने आप को मारने और आपका मांस खाने का फैसला किया है. मैं आपको मरने के पहले अगर आपकी आखिरी इच्छा होतो उसे पूरा करने के लिए तैयार हूं. ”

सुअर अपनी पूरी कोशिश करके बाघ को समझाते हैं कि यह एक सपना है और इसका वास्तविकता के साथ कोई लेना देना नहीं है. लेकिन बाघ अड़ा था. सुअर को यह एहसास हुआ कि बाघ के चंगुल से बचना बहुत मुश्किल होगा. फिर सुअर ने कहा, “अगर तुम मुझे मार दोगे तो दूसरे सूअरों में आप को बदनामी होगी . मुझे लगता है कि यह बेहतर होगा की मुझे मारने से पहले तीन जानवरों से आपके तर्क की स्वीकृति ले ली जाये”
बाघ के इस प्रस्ताव पर सहमति व्यक्त की.

वो दोनों पहले एक बंदर के पास गए और पूरी कहानी सुनाई. बंदर के प्रस्ताव का समर्थन किया. फिर, उन दोनों को एक मुर्गी मिली उसने भी बाघ का समर्थन किया. बाघ बहुत खुश था लेकिन सुअर बहुत परेशान था.

अंत में, वे एक चमगादड़ के समक्ष पेश हुए. बाघ के दावे सुनने के बाद उसे तुरंत बाघ के इरादे का आभास हुआ. हालांकि, उसने कुछ भी का खुलासा नहीं किया और केवल कहा, “यह एक बहुत ही जटिल मामला है. मैं आपको उचित न्याय के लिए राजा के पास जाने के लिए सलाह दूंगा . “उन्होंने यह भी उन्हें सूचित किया कि वह मामले की सुनवाई के समय राजा के दरबार में उपस्थित रहेगा.

अन्य हिंदी कहानिया Hindi Kahaniya पढ़े:
Story in Hindi – A Friendship Story in Hindi
Raja Rani Ki Kahani
King Queen Story
Hindi Story for Kids
A Story in Hindi
Hindi Moral Story For Kids

Jungle ke raaja ki Adaalat – Story For Kids Hindi

बाघ और सुअर अदालत में राजा के समक्ष पेश हुए और पूरा प्रकरण सुनाया. सुअर ने राजा को एक गवाह के बहुत जल्द ही उपस्थित होने की जानकारी भी दी. राजा उन्हें थोड़ी देर के लिए प्रतीक्षा करने के लिए कहा और अन्य शाही काम में लग गए.

अचानक चमगादड़ जमीन पर राजा की अदालत की छत से गिर गया और उल्लास के साथ नृत्य करने लगा. राजा ने अदालत में दुर्व्यवहार करने के लिए चमगादड़ को चेतावनी दी .

चमगादड़ राजा से प्रार्थना की उसे अपने व्यवहार के लिए माफ किया जाये.. “मेरे प्रभु! जबकि अदालत की छत पर इंतजार करते करते सो गया था.

चमगादड़ ने बहुत डर कर कहा –उस समय, मैंने एक सपना देखा था लेकिन मैं इसे बयान करने में बहुत डर लग रहा है.

राजा ने उस से कहा- “चिंता मत करो, आप बिना किसी डर के सपने को बयान कर सकते हैं.”

चमगादड़ ने सुनाया – “मेरे सपने में, मैंने देखा कि मैंने एक राजकुमारी से शादी की थी.” उन्होंने राजा से प्रार्थना की राजकुमारी से उसकी शादी करवा के उसके सपने को पूरा किया जाये.

Jungle ke raaja ka Nyay – Story For Kids Hindi

राजा बहुत क्रोधित हो गया और उसे आगाह किया की ऐसी वाहियात मांग के लिए यहाँ न आया जाये. तब उन्होंने कहा, “यह एक सपने के आधार पर किसी प्रस्ताव को रखना उचित नहीं है. एक सपना एक सपना है और वास्तविकता के साथ कोई संबंध नहीं है. ”

चमगादड़ अवसर मिल गया तो उसने कहा- “अगर यह सच है, तो फिर कैसे बाघ अपने सपने के बल पर सुअर को मारने और उसके मांस को खाने के लिए मांग कर सकते हैं?”

राजा बल्लेबाजी की दलील को स्वीकार कर लिया और एकमुश्त बाघ के प्रस्ताव को खारिज कर दिया. उन्होंने यह आदेश दिया की अब बाघ और सुअर जंगल में अलग अलग रहेंगे.

Hindi Moral Story For Kids

लालच के कारण और सिर्फ अपने फायदे के लिए दुसरे का नुक्सान नहीं करना चाहिए. अगर सिर्फ हम अपने फायदे लिए किसी को हानि पहुचाते है तो यह सही नहीं है.

आपसे विनती:

दोस्तों आपको यह Greed Of A Tiger Story For Kids in Hindi | बाघ का लालच – बच्चो की कहानी जरूर पसंद आई होगी.

आप हमें थोडा समय देकर हमारी मदद कर सकते है हमें फेसबुक और गूगल प्लस पे share जरूर करे.

इस तरह की और हिंदी कहानिया Hindi Kahaniya पढने के लिए सब्सक्राइब करे और इनबॉक्स पे लेटेस्ट कहानिया पाए.

loading...

Raj Dixit

दोस्तों मै Hindi-Quotes.in का admin हूँ अगर आपको यह ब्लॉग पसंद आया हो तो फेसबुक पेज LIKE करे और आप comments भी करें. आपका feedback हमारे लिए बहुत आवश्यक है. Thanks Raj Dixit https://plus.google.com/u/1/112301362715538277322

1 Response

  1. HindIndia says:

    As usual शानदार पोस्ट …. Bahut hi badhiya …. Thanks for this!! 🙂 🙂

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

35 + = forty three