King Queen Family Story in Hindi | हिंदी कहानी

राजा रानी का परिवार – A Story in Hindi

एक राजा था. उसके दो रानियाँ थी. राजा के कोई संतान नहीं थी. इस बात से राजा बहुत दुखी रहता था. एक बार उसके राज्य में एक साधू आया. राजा साधू महात्माओं का सेवा-सत्कार किया करता था. इसलिए उस साधू को राजा ने अपने दरबार में बुलाया.
King Queen Family Story in Hindi
राजा ने साधू को अपनी दुःख का कारन बताया. बड़ी रानी तो साधू के सत्कार में जुट गयी लेकिन छोटी रानी ने उसका उपहास उड़ाया. साधू ने जाने से पहले बड़ी रानी को आशीर्वाद दिया की जल्दी ही इस महल में बच्चों की किलकारी गूंजेगी. समय बीतता गया और कुछ दिनों के बाद बड़ी रानी गर्भवती हो गयी उसे खूब सम्मान मिलने लगा. इससे छोटी रानी को इर्ष्या होने लगी. उसने महल की दाई को धन का लालच देकर अपनी तरफ कर लिया.

Read this Story in HindiHindi story / Kahani

समय आने पर रानी ने दो बच्चों को जन्म दिया एक बेटा और एक बेटी. लेकिन दाई ने मौका देखकर दोनों बच्चे छोटी रानी को दे दिए और बड़ी रानी के पास दो पत्थर रख दिए. छोटी रानी ने बच्चे चौकीदार को देकर उन्हें जान से मारने का आदेश दिया. लेकिन चौकीदार को दया आगयी और उसने बच्चों को नहीं मारा और जंगल में छोड़ दिया. भुख प्यास से दोनों बच्चे जल्दी ही मर गए.

More Story in Hindi Hindi Story for Kids – कल की चिंता

राजकुमारी चंपा का पेड़ और राजकुमार बांस का पेड़ बन गए. एक दिन बड़ी रानी ने सिपाही को पूजा के लिए फूल लेने जंगल भेजा. उसने वह चंपा और बांस का झाड़ देखा. जैसे ही सिपाही चंपा के फूल तोड़ने लगा चंपा ने अपना कद बढ़ा दिया. यह देखकर सिपाही आश्चर्य चकित रह गया. उसने जाकर यह बात राजा को बताई. राजा तुरंत अपनी दोनों रानियों को लेकर जंगल को रवाना हो गया.

राजा ने जैसे ही फूल तोड़ने के लिए हाथ बढाया, चंपा ने बांस से कहा- “भैया राजा फूल तोडना चाहता है”. बांस ने कहा- “तू अपना कद और बढ़ा ले”.

यह सुनकर राजा ने पूंछा – “तुम लोग चंपा और बांस कैसे बन गए”?. उन दोनों ने राजा को सारी बात बताई. यह सुनकर राजा ने उसी वक्त छोटी रानी को कैद करके बंदी गृह में डलवा दिया. इतने में चंपा की नज़र बड़ी रानी पे पड़ी. चंपा ने बांस से कहा – “भैया! बड़ी रानी भी फूल तोड़ने आई है.” बांस ने कहा इनके सामने झुक जा. यह सुनकर चंपा रानी के पैरों में झुक गयी. बांस भी बड़ी रानी के पैरों में झुक कर छूने लगा.


अन्य हिंदी कहानिया Hindi Kahaniya भी पढ़े

King Queen Hindi Story
Story for Kids in Hindi
Story in Hindi – A Friendship Story in Hindi
Raja Rani ki Kahani Part-1
Raja Rani ki Kahani Part-2

बड़ी रानी दोनों से लिपटकर रोने लगी. जैसी ही रानी के आसुओं ने दोनों को छुवा वो मनुष्य बन गए. रानी ने दोनों को गले से लगा लिया. राजा रानी अपने दोनों बच्चों के साथ राजमहल आ गए. उनके आने पर राज्य में धूम धाम से खुशियां मनाई गई और राज्य में सब सुख पूर्वक रहने लगे.

> बच्चो का मार्गदर्शन कैसे करे – Career Counselling tips & Children Career Story Hindi

कृपया ध्यान दें :

यदि King Queen Story in Hindi में या इस जानकारी में कुछ mistake लगें तो हमें कमेंट जरूर लिखे हम update करते रहेंगे. आपका शुक्रिया!

– आशा है आपको हमारी Story/Kahani in Hindi पसंद आई होगी तो आप हमें Facebook पर Like और Share कर सकते है.

Please Note: अभी Email Subscribe करके All Kahani/Stories in Hindi और Latest Hindi-Quotes.in’s Updates पायें अपने Email.

Raj Dixit

दोस्तों मै Hindi-Quotes.in का admin हूँ अगर आपको यह ब्लॉग पसंद आया हो तो फेसबुक पेज LIKE करे और आप comments भी करें. आपका feedback हमारे लिए बहुत आवश्यक है. Thanks Raj Dixit https://plus.google.com/u/1/112301362715538277322

2 Responses

  1. Raju says:

    Yah Hindi kahani mujhe bahut achhi lagi. King Queen Story daalne ke liye. thanks

  2. Pahi says:

    Very nice story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *